राजकीय जूनियर हाईस्कूल की प्रधानाचार्या मंजू निलंबित, चेक में आठ हजार रुपये की जगह अस्सी हजार रुपये करने का आरोप

हरिद्वार । राजकीय जूनियर हाईस्कूल हजारा ग्रंट की प्रधानाचार्या को चेक में आठ हजार रुपये की जगह अस्सी हजार रुपये करने के आरोप में जिला शिक्षाधिकारी (डीईओ) ने निलंबित कर दिया है। प्रधानाचार्या मंजू उप शिक्षा अधिकारी कार्यालय बहादराबाद में अग्रिम जांच पूरी होने तक अटैच रहेंगी। उधर, प्रधानाचार्या मंजू का कहना है कि उन पर लगाए जा रहे आरोप बेबुनियाद हैं। पूर्व प्रबंध समिति अध्यक्ष अबरार ने बीते माह डीईओ को शिकायत में कहा था कि अभिभावक प्रबंध समिति का अध्यक्ष रहते हुए प्रधानाचार्या ने विश्वास में लेकर पांच चेकों पर हस्ताक्षर करा लिए थे। एक चेक में आठ हजार रुपए संख्या में लिख दिए। लेकिन शब्दों में नहीं लिखा गया। कुछ दिन बाद पता चला आठ हजार के चेक को अस्सी हजार कर पैसा निकाल लिया गया है। विरोध किया तो आरोप है कि प्रधानाचार्या झगड़े पर उतारू हो गईं। आरोप है कि बिना प्रस्ताव पारित किए उनको अध्यक्ष पद से हटा दिया और दूसरी प्रबंध समिति का गठन कर दिया। जिला शिक्षा अधिकारी (बेसिक) डॉ.विद्या शंकर चतुर्वेदी ने बताया जांच में मामला सही पाया गया है। जिसके बाद प्रधानाचार्या मंजू को निलंबित कर दिया है। हालांकि मंजू का पक्ष भी जाना गया था। मंजू ने आठ के अस्सी हजार की बात स्वीकार की है। पैसा विद्यालय में भवन निर्माण कार्य में लगाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *