दहेज में कार की मांग पूरी न होने पर गर्भवती को घर से निकालकर दिया तीन तलाक

हरिद्वार । दहेज में कार की मांग पूरी न होने पर गर्भवती विवाहिता की पिटाई कर घर से निकालकर तीन तलाक देने का मामला सामने आया है। विवाहिता के भाई की शिकायत पर ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने आरोपी ससुराल पक्ष के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। कोतवाली ज्वालापुर में मुकदमा दर्ज कराते हुए विवाहिता के भाई ने बताया कि उसकी बहन का निकाह पिछले साल दानिश निवासी गांव बिझौली मंगलौर के साथ हुआ था। निकाह के कुछ समय बाद उसके पिता का निधन हो गया, जिसके बाद ससुरालजन ने दहेज की खातिर उसकी बहन को प्रताडि़त करना शुरू कर दिया। आरोप है कि बहन के जानकारी देने पर उसे मायके ले आए, जिसके बाद पति दानिश अपने रिश्तेदारों के साथ यहां आया और सुलह होने पर उसकी बहन को वापस ले गया। आरोप है कि कुछ दिन बाद ही उसकी बहन की पति एवं ननद आस्मीन ने पिटाई कर दी। यही नहीं चाकू से भी उसकी बहन पर वार किया, जिसमें उसके हाथ में चोट आई। उसकी गर्भवती बहन की पिटाई कर उसे घर से निकाल दिया और पति ने तीन बार तलाक बोलकर तलाक देने की बात कही। कोतवाली प्रभारी कुंदन सिंह राणा ने बताया कि आरोपी पति मो. दानिश, असलम, तुस्कीता, अलवीरा निवासी बिझौली मंगलौर, परवेज आलम, आस्मीन निवासी पिरान कलियर के ​खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पर हमसे जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक  करे , साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमे पर फॉलो करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *