रुड़की में एक गांव की मुख्य सड़क को लेकर सेना और ग्रामीणों में एक बार फिर टकराव, सूचना मिलने पर पुलिस बल मौके पर पहुंचा

 

रुड़की । शहर के एक गांव की मुख्य सड़क को लेकर सेना और ग्रामीणों में एक बार फिर टकराव हो गया है। सूचना मिलने पर पुलिस बल मौके पर पहुंचा। पुलिस ने ग्रामीणों को शांत करने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण गांव की मुख्य सड़क पर धरने पर बैठ गए। इसके बाद विवाद कई घंटे तक चलता रहा। करीब सात घंटे तक ग्रामीण मुख्य मार्ग पर बैठे रहे। इस दौरान खानपुर विधायक उमेश कुमार, रुड़की सीओ नरेंद्र पंत और एएसडीएम विजय नाथ शुक्ला दोनों पक्षों के बीच सुलह कराने के प्रयास करते रहे।
रुड़की के गांव भंगेड़ी महावतपुर में करीब चौदह साल से मुख्य सड़क को लेकर सेना और ग्रामीणों में विवाद चल आ रहा है। जो आज तक सुलझ नहीं पाया है। शुक्रवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे के आसपास निर्माण कार्य को लेकर सेना ने आपत्ति की। सेना की सड़क निर्माण पर आपत्ति की सूचना मिलने पर भारी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंचे। जिसके बाद सेना के जवान मुख्य मार्ग पर वाहनों के साथ खड़े हो गए। इस दौरान रास्ता बंद हो गया। इधर, ग्रामीणों ने भी मुख्य मार्ग पर धरने पर बैठकर अपना विरोध शुरू कर दिया। इस बीच सेना और ग्रामीणों के टकराव की सूचना मिलने पर रुड़की कोतवाली से फोर्स गांव पहुंची और दोनों पक्षों को समझाने के प्रयास शुरू कर दिए। लेकिन मामला शांत नहीं हो पाया। इसके बाद खानपुर विधायक उमेश कुमार, सीओ रुड़की नरेंद्र पंत और एएसडीएम विजय नाथ शुक्ला भी गांव पहुंच गए। पुलिस-प्रशासन ने ग्रामीणों और सेना के जवानों से बात की। जहां दोनों पक्षों ने सड़क पर अपना अपना दावा ठोका। कई घंटे तक सड़क निर्माण को लेकर वार्ताएं चलती रही। ग्राम प्रधान नरेंद्र कुमार ने बताया कि सालों से मुख्य मार्ग के निर्माण को लेकर सेना की ओर से कार्य को रोक दिया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *